Skip to main content

गुलशन देवैया और अनुराग कश्यप ने चोर-पुलिस की भागमभाग को बनाया और भी मजेदार; डिज्ऩी+हॉटस्टार ने ड्रामा सीरीज ‘बैड कॉप’ की घोषणा की

गुलशन देवैया और अनुराग कश्यप ने चोर-पुलिस की भागमभाग को बनाया और भी मजेदार; डिज्ऩी+हॉटस्टार ने ड्रामा सीरीज ‘बैड कॉप’ की घोषणा की

मुंबई, : एक खतरनाक विलेन, एक जांबाज कॉप और बहुत सारे ट्विस्ट? डिज्ऩी+हॉटस्टार ने अपनी आगामी ऐक्शन-ड्रामा सीरीज ‘बैड कॉप’ की घोषणा की। ढेर सारे ट्विस्ट और टर्न्‍स के साथ यह पुलिस और विलेन की क्लासिक कहानी है। करण एक जांबाज पुलिसवाला है और वह अपने से ज्यादा ताकतवर और खतरनाक विलेन, कज्ब़े को पकड़ने की कोशिश कर रहा है। वहीं, वह अपने निजी रिश्तों को भी संभाल रहा है। यह शो भारत में फ्रीमैंटल इंडिया की पहली सीरीज है। हॉटस्टार स्पेशल्स की ‘बैड कॉप’ जल्द ही डिज्ऩी+हॉटस्टार पर रिलीज होगी।

रेंसिल डिसिल्वा द्वारा रूपांतरित, आदित्य दत्त निर्देशित हॉटस्टार स्पेशल्स, ‘बैड कॉप’ में अनुराग कश्यप एक चालाक, दिलचस्प और खतरनाक विलेन, कज्ब़े बने हैं और गुलशन देवैया एक जबर्दस्त, साहसी पुलिस वाले की भूमिका में हैं। इस सीरीज में हरलीन सेठी, सौरभ सचदेवा और ऐश्वर्या सुष्मिता भी प्रमुख भूमिकाओं में हैं।

आराधना भोला, मैनेजिंग डायरेक्टर, फ्रीमैंटल इंडिया का कहना है, “फ्रीमैंटल इंडिया के कंटेंट निर्माण के इस सफर में ‘बैड कॉप’ के रूप में यह हमारी पहली ड्रामा वेब सीरीज है। एक बिलकुल ही नए अध्याय की शुरुआत करते हुए हमें बेहद खुशी का अनुभव हो रहा है। भारतीय संस्करण के इस फॉर्मेट का सबसे पहले आरटीएल ने निर्माण किया। डिज्ऩी+हॉटस्टार पर इसे जीवंत करने के लिए हमने काफी प्रतिभाशाली कलाकारों के साथ काम किया है। लेखक, रेंसिल डिसिल्वा ने भारतीय परिप्रेक्ष्य को ध्यान में रखते हुए दिलचस्प लेकिन थोड़ा अलग हटकर उस कहानी को नए सिरे से लिखा है और उस कहानी को गुलशन देवैया, हरलीन सेठी, सौरभ सचदेवा और अनुराग कश्यप ने परदे पर जीवंत करके दिखाया है। आदित्य दत्त जैसे काबिल निर्देशक ने इन सबसे बढ़कर आम लोगों तक पहुंचने वाली ऐक्शन की अपनी समझ से सीरीज में जान डाल दी है। हमें पूरी उम्मीद है कि दर्शकों तक भी हमारा यह उत्साह पहुंचेगा और उन्हें भी ‘बैड कॉप’ देखने में उतना ही मजा आएगा जितना हमें इसे बनाने में आया।’’

निर्देशक आदित्य दत्त कहते हैं, “हमें एक ऐसी कहानी पेश करते हुए बेहद खुशी हो रही है जो क्लासिक, अनोखी, रोमांचक और ऐक्शन से भरपूर है! यह पुलिस और चोर की भागमभाग वाली वही क्लासिक कहानी है[H2] [H3], लेकिन इसमें बड़ा ही मजेदार ट्विस्ट है जोकि आपको आखिर तक बांधकर रखेगा। इस सीरीज में काफी जबर्दस्त एक्शन, शानदार किरदार हैं और यह पूरी तरह से एक मनोरंजक कहानी है। इस सीरीज का हरेक किरदार बेहद ही गहराई और बारीकी के साथ गढ़ा गया है, जिन्हें बेहद ही कमाल के एक्टर्स ने निभाया है। डिज्ऩी+हॉटस्टार व फ्रीमैंटल इंडिया के साथ साझेदारी का अनुभव कमाल का रहा, क्योंकि इस सीरीज को लेकर हमारी सोच एक जैसी थी और हमें उम्मीद है कि दर्शकों को यह रोमांचक सफर पसंद आएगा।’’

अपने किरदार के बारे में अनुराग कश्यप बताते हैं, “मैंने कई भयानक, अजीबोगरीब, डार्क और ऐसे ही ना जाने कितने ही किरदार गढ़े हैं लेकिन मेरा विश्वास करें उनमें से एक किरदार बनना मेरे लिए वाकई बेहद मुश्किल था। कज्ब़े एक ऐसा किरदार है जोकि कुछ भी करने से पहले सोचता नहीं, बस वह कर देता है। वह खतरनाक, सनकी, दुष्ट और अलग तरह का विलेन है। मुझे खुद ही इस किरदार को समझना था और उसे पूरी तरह से अपना बनाना था। आदित्य दत्त के निर्देशन में काम करना बेहद ही अच्छा अनुभव रहा है। वहीं, डिज्ऩी+हॉटस्टार और फ्रीमैंटल इंडिया के साथ जुड़ना भी बेहतरीन अनुभव था।’’

अपनी भूमिका के बारे में गुलशन देवैया बताते हैं, “बैड कॉप में काम करके बड़ा ही मजा आया, क्योंकि यह पूरी तरह से एक मनोरंजक सीरीज है। मेरे लिए यह बेहद ही अलग तरह का किरदार है, इसलिए मैं काफी उत्सुक हूं। एक शो में देवीलाल के रूप में मैंने एक अलग तरह के पुलिस वाले का किरदार निभाया था, लेकिन यह एक उलझी हुई-मनोरंजन से भरपूर पुलिस वाले की कहानी है। चूंकि, मैंने आदित्य दत्त के साथ पहले भी काम किया है, इसलिए उनके काम करने के तरीके से वाकिफ हूं। वे सीधी बात करते हैं और एक मनोरंजक, कूल शो बनाना चाहते थे, जिसे लोग पसंद करें। इसमें ऐक्शन थोड़ा मुश्किल था, खासकर दौड़ने-भागने वाला। मेरे लिए वह थोड़ा कठिन रहा, क्योंकि मैं ऐक्शन करने का आदी नहीं हूं और मेरी शारीरिक बनावट भी वैसी नहीं है। कुल मिलाकर, फ्रीमैंटल इंडिया और डिज्ऩी+हॉटस्टार के साथ काम करने में बड़ा मजा आया। अनुराग के साथ काम करना भी मजेदार रहा, क्योंकि इससे पहले उन्होंने मेरी फिल्मों का सिर्फ निर्देशन और निर्माण ही किया था, लेकिन इस सीरीज में उनके साथ सीन और एक्शन करना मजेदार था। मेरे लिए यह काफी कमाल का अनुभव था, क्योंकि मैंने कभी भी उनके साथ अभिनय करने की उम्मीद नहीं की थी। मुझे इस बात की बेहद उत्सुकता हो रही है कि लोग एक फिल्मी पुलिसवाले के मेरे किरदार को पसंद करेंगे या नहीं। उम्मीद करता हूं कि दर्शकों को भी मजा आने वाला है, मुझे उनकी राय जानने का बेसब्री से इंतजार है।“

Comments

Popular posts from this blog

आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है!

-आध्यात्मिक लेख  आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है! (1) मृत्यु के बाद शरीर मिट्टी में तथा आत्मा ईश्वरीय लोक में चली जाती है :विश्व के सभी महान धर्म हिन्दू, बौद्ध, ईसाई, मुस्लिम, जैन, पारसी, सिख, बहाई हमें बताते हैं कि आत्मा और शरीर में एक अत्यन्त विशेष सम्बन्ध होता है इन दोनों के मिलने से ही मानव की संरचना होती है। आत्मा और शरीर का यह सम्बन्ध केवल एक नाशवान जीवन की अवधि तक ही सीमित रहता है। जब यह समाप्त हो जाता है तो दोनों अपने-अपने उद्गम स्थान को वापस चले जाते हैं, शरीर मिट्टी में मिल जाता है और आत्मा ईश्वर के आध्यात्मिक लोक में। आत्मा आध्यात्मिक लोक से निकली हुई, ईश्वर की छवि से सृजित होकर दिव्य गुणों और स्वर्गिक विशेषताओं को धारण करने की क्षमता लिए हुए शरीर से अलग होने के बाद शाश्वत रूप से प्रगति की ओर बढ़ती रहती है। (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है : (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है :हम आत्मा को एक पक्षी के रूप में तथा मानव शरीर को एक पिजड़े के समान मान सकते है। इस संसार में रहते हुए

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का किया ऐलान जानिए किन मांगों को लेकर चल रहा है प्रदर्शन लखनऊ 2 जनवरी 2024 लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार और कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का भी है किया ऐलान इनकी मांगे इस प्रकार है पुनरीक्षित वेतनमान-5200 से 20200 ग्रेड पे- 1800 2- स्थायीकरण व पदोन्नति (ए.सी.पी. का लाभ), सा वेतन चिकित्सा अवकाश, मृत आश्रित परिवार को सेवा का लाभ।, सी.पी. एफ, खाता खोलना।,  दीपावली बोनस ।

आईसीएआई ने किया वूमेन्स डे का आयोजन

आईसीएआई ने किया वूमेन्स डे का आयोजन  लखनऊ। आईसीएआई ने आज गोमतीनगर स्थित आईसीएआई भवम में इन्टरनेशनल वूमेन्स डे का आयोजन किया। कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्ज्वलन, मोटो साॅन्ग, राष्ट्रगान व सरस्वती वन्दना के साथ हुआ। शुभारम्भ के अवसर पर शाखा के सभापति सीए. सन्तोष मिश्रा ने सभी मेम्बर्स का स्वागत किया एवं प्रोग्राम की थीम ‘‘एक्सिलेन्स / 360 डिग्री’’ का विस्तृत वर्णन किया। नृत्य, गायन, नाटक मंचन, कविता एवं शायरी का प्रस्तुतीकरण सीए. इन्स्टीट्यूट की महिला मेम्बर्स द्वारा किया गया। इस अवसर पर के.जी.एम.यू की सायकाॅयट्रिक नर्सिंग डिपार्टमेन्ट की अधिकारी  देब्लीना राॅय ने ‘‘मेन्टल हेल्थ आफ वर्किंग वूमेन’’ के विषय पर अपने विचार प्रस्तुत किये। कार्यक्रम में लखनऊ शाखा के  उपसभापति एवं कोषाध्यक्ष सीए. अनुराग पाण्डेय, सचिव सीए. अन्शुल अग्रवाल, पूर्व सभापति सीए, आशीष कुमार पाठक एवं सीए. आर. एल. बाजपेई सहित शहर के लगभग 150 सीए सदस्यों ने भाग लिय।