Skip to main content

जश्न ए आजादी ट्रस्ट ने धूम धाम से मनाया आजादी का जश्न

जश्न ए आजादी ट्रस्ट ने धूम धाम से मनाया आजादी का जश्न

  • होटल डायमंड पैलेस में सजी जश्न की महफिल,बड़ी संख्या में लोग रहे मौजूद
  • देश भक्ति के गीतों से बंधा शमा,लोगो ने लगाए भारत माता की जय- वन्देमातरम के नारे
  • कई धर्मगुरुओं की मौजूदगी में हुआ झंडारोहण समारोह का आयोजन
  • लोगो के बीच बांटा गया महा लड्डू,ट्रस्ट ने आसमान में 76 तिरंगा गुब्बारा उड़ाकर किया खुशी का इजहार,

लखनऊ। स्वतंत्रता दिवस पर जश्ने आजादी ट्रस्ट द्वारा विभिन्न आयोजन करके भारत पर्व के रूप में बड़े ही धूम धाम से 'होटल डायमंड पैलेस में आजादी का जश्न मनाया गया।देश भक्ति के संगीत भरे माहौल नृत्य कॉमेडी,कवि सम्मेलन,मुशायरा और सम्मान समारोह का आयोजन हुआ।

कार्यक्रम में सारेगामा भारतीय संगीत समाजिक एवं सांस्कृतिक वेल्फेयर संस्थान की ओर से भारतनाट्यम शैली में डा संगीता चौबे के नृत्य निर्देशन में वंदेमातरम पर समूह नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति दी गई।इसके साथ ही संस्थान की काव्या यादव ने देशभक्ति मैशप पर एंजल जायसवाल ने भारत अनोखा राग है,भूमि कश्यप ने जय हो, अनन्या श्रीवास्तव ने मैशप आद्या शुक्ला ने शुभ दिन आयो व दीपिका तिवारी ने ऐसा देश है मेरा पर मनोरम प्रस्तुतियां दी।मंच पर देशभक्ति की प्रस्तुति देखकर दर्शक बहुत आनन्दित हुये,भारत माता की जय- वन्देमातरम के नारों से कार्यक्रम स्थल गुंजायमान रहा।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री, एम एल सी महेंद्र सिंह का स्वागत डायमंड ग्रुप की एम.डी. सबीहा अहमद और चेयरमैन हाफ़िज़ इल्तिकाफ अहमद ने किया तथा आयोजन में आए हुए सभी अतिथियों का अब्दुल वहीद और जुबैर अहमद ने तिरंगा पट्टी पहनाकर स्वागत किया।

इस दौरान समाज के विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान करने वाली कई विभूतियों को मुख्य अतिथि महेंद्र सिंह के द्वारा सम्मानित भी किया गया।इस मौके पर जश्न ए आजादी ट्रस्ट की सराहना करते हुए पूर्व मंत्री ने कहा कि यह त्यौहार हम बड़ी धूमधाम से मनाएं और हर घर पर तिरंगा लगाएं।इस आयोजन में शायर मो अली साहिल ने अपनी देश भक्ति की शायरी से लोगो का दिल जीत लिया।कार्यक्रम का संचालन वामिक खान,अरशद खान एवं मनीषा पांडेय के द्वारा किया गया।इस मौके पर जश्न ए आजादी ट्रस्ट की चेयर पर्सन रजिया नवाज, अध्यक्ष मुरलीधर आहुजा, महासचिव निगहत खान, कोषाध्यक्ष वामिक खान, संस्थापक सदस्यों जुबैर अहमद, अब्दुल वहीद,मुर्तुजा अली,शाहजादे कलीम,संजय सिंह,हरपाल सिंह जग्गी,कुदरत खान,बज़्मी युनुस,सलाहुदीन शीबु एडवोकेट, प्रदीप सिंह बब्बू,अनुराग त्रिवेदी एडवोकेट,कमर अली,भानुप्रताप सिंह,मोहम्मद उमर,वसीम अहमद,डॉक्टर आदर्श त्रिपाठी,शालू सिंह,राधेश्याम यादव,आरिफ़ मुकीम,शाहिद सिद्दीकी, आबिद अली कुरैशी,जितेन्द्र कुमार खन्ना,अवधेश सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहे।साथ ही जश्न- ए -आजादी ट्रस्ट द्वारा हज़रतगंज स्थित हनुमान मंदिर के पास ध्वजारोहण किया गया।विभिन्न  धर्म-गुरुओं की मौजूदगी में झंडा रोहण का आयोजन बड़े हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुआ।झंडारोहण के इस कार्यक्रम में मौलाना ख़ालिद रशीद फरंगी महली मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहे।झंडारोहण के उपरांत लड्डू का वितरण भी किया गया तथा आसमान में 77 तिरंगे गुब्बारे आसमान में उड़ाए गए।इस अवसर पर ट्रस्ट के अध्यक्ष मुरलीधर आहूजा ने कहा कि स्वतन्त्रता दिवस हमारे देश का सबसे बड़ा त्यौहार होना चाहिए बस इसी भावना के साथ आज़ादी का उत्सव हम सब जोर शोर से मनाते है। ट्रस्ट की महामंत्री निगहत खान ने कहा कि हिन्दू,मुसलिम, सिख,ईसाई,जैन,बौद्ध,आदि सभी ने एक साथ मिलकर इस जश्न में शामिल होकर एकता और अखण्डता का संदेश दिया।इस राष्ट्रीय पर्व पर देश की खुशहाली और अमन शांति की दुआ भी की गई।

Comments

Popular posts from this blog

आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है!

-आध्यात्मिक लेख  आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है! (1) मृत्यु के बाद शरीर मिट्टी में तथा आत्मा ईश्वरीय लोक में चली जाती है :विश्व के सभी महान धर्म हिन्दू, बौद्ध, ईसाई, मुस्लिम, जैन, पारसी, सिख, बहाई हमें बताते हैं कि आत्मा और शरीर में एक अत्यन्त विशेष सम्बन्ध होता है इन दोनों के मिलने से ही मानव की संरचना होती है। आत्मा और शरीर का यह सम्बन्ध केवल एक नाशवान जीवन की अवधि तक ही सीमित रहता है। जब यह समाप्त हो जाता है तो दोनों अपने-अपने उद्गम स्थान को वापस चले जाते हैं, शरीर मिट्टी में मिल जाता है और आत्मा ईश्वर के आध्यात्मिक लोक में। आत्मा आध्यात्मिक लोक से निकली हुई, ईश्वर की छवि से सृजित होकर दिव्य गुणों और स्वर्गिक विशेषताओं को धारण करने की क्षमता लिए हुए शरीर से अलग होने के बाद शाश्वत रूप से प्रगति की ओर बढ़ती रहती है। (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है : (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है :हम आत्मा को एक पक्षी के रूप में तथा मानव शरीर को एक पिजड़े के समान मान सकते है। इस संसार में रहते हुए

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का किया ऐलान जानिए किन मांगों को लेकर चल रहा है प्रदर्शन लखनऊ 2 जनवरी 2024 लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार और कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का भी है किया ऐलान इनकी मांगे इस प्रकार है पुनरीक्षित वेतनमान-5200 से 20200 ग्रेड पे- 1800 2- स्थायीकरण व पदोन्नति (ए.सी.पी. का लाभ), सा वेतन चिकित्सा अवकाश, मृत आश्रित परिवार को सेवा का लाभ।, सी.पी. एफ, खाता खोलना।,  दीपावली बोनस ।

भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन

भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन लखनऊ, जुलाई 2023, अयोध्या के श्री धर्महरि चित्रगुप्त मंदिर में भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन  किया गया। बलदाऊजी द्वारा संकलित तथा सावी पब्लिकेशन लखनऊ द्वारा प्रकाशित इस पुस्तक का विमोचन संत शिरोमणी श्री रमेश भाई शुक्ल द्वारा किया गया जिसमे आदरणीय वेद के शोधक श्री जगदानंद झा  जी भी उपस्थित रहै उन्होने चित्रगुप्त भगवान् पर व्यापक चर्चा की।  इस  अवसर पर कई संस्था प्रमुखो ने श्री बलदाऊ जी श्रीवास्तव को शाल पहना कर सम्मानित किया जिसमे जेo बीo चित्रगुप्त मंदिर ट्रस्ट,  के अध्यक्ष श्री दीपक कुमार श्रीवास्तव, महामंत्री अमित श्रीवास्तव कोषाध्यक्ष अनूप श्रीवास्तव ,कयस्थ संध अन्तर्राष्ट्रीय के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिनेश खरे, अ.भा.का.म के प्रदेश अध्यक्ष श्री उमेश कुमार जी एवं चित्रांश महासभा के कार्वाहक अध्यक्ष श्री संजीव वर्मा जी के अतिरिक्त अयोध्या नगर के कई सभासद भी सम्मान मे उपस्थित रहे।  कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के अध्यक्ष दीपक श्रीवास्तव जी ने की एवं समापन महिला अध्यक्ष श्री मती प्रमिला श्रीवास्तव द्वारा किया गया। कार्यक्रम