Skip to main content

लग्जरी के भव्य प्रदर्शन के साथ लखनऊ में आयोजित होने जा रहा है द लुक्सो शो का सेकंड एडिशन

लग्जरी के भव्य प्रदर्शन के साथ लखनऊ में आयोजित होने जा रहा है द लुक्सो शो का सेकंड एडिशन

  • लुक्सो शो के दूसरे एडिशन में मशहूर डिजाइनर्स, लक्जरी कारों, भव्य ज्वैलरी कलेक्शन के साथ देखने के लिए होगा बहुत कुछ
  • प्रसिद्ध डिजाइनर इस लग्जरी शो में प्राचीन और आधुनिक वैभावपूर्ण भारतीय कला के सम्मिश्रण वाले डिजाइंस को करेंगे प्रदर्शित 

लखनऊ, 17 अगस्त, 2023: नवाबों के शहर, लखनऊ में लग्जरी और लाइफस्टाइल को भव्य तरीके से प्रदर्शित करने वाला शो, द लुक्सो शो (टीएलएस) की बहुप्रतीक्षित दूसरे सीजन के साथ वापसी हो रही है।  शो इस वर्ष के आयोजन पहले से भी अधिक शानदार और ऐश्वर्य से भरपूर होगा, जिसमें नामी डिजाइनरों, विश्व प्रसिद्ध लक्जरी कार ब्रांडों, अपने भव्य ज्वैलरी डिजाइंस के लिए ख्याति प्राप्त ज्वैलर्स, रियल स्टेट और प्रीमियम ब्रांड्स की एक श्रृंखला प्रदर्शित की जाएगी।  यह दो दिवसीय कार्यक्रम 26 और 27 अगस्त, 2023 को द सेंट्रम में आयोजित होगा।

 इस शो में रितु कुमार, सामंत चौहान, गीशा डिजाइन बाय पारस एंड शालिनी, हाउस ऑफ थ्री से सौनक, मनोविराज खोसला, आलेख्या बाय सुहानी गुरनानी, रवीना बेलानी, संचिता और श्रीलंका से कामिल हेवाविथाराना जैसे प्रसिद्ध डिजाइनर शामिल होंगे।

जुगल किशोर ज्वैलर्स बाय राजन रस्तोगी के निदेशक राघव रस्तोगी ने कहा, "हम लखनऊ में द लुक्सो शो के दूसरे संस्करण का हिस्सा बनने को लेकर बेहद उत्साहित हैं। यह कार्यक्रम हमें लखनऊ के पारखी ग्राहकों के लिए अपने नवीनतम आभूषण संग्रह को प्रदर्शित करने का एक शानदार अवसर प्रदान करेगा। हमें पूरा विश्वास है कि यह शो एक शानदार सफलता साबित होगा।" लुक्सो लखनऊ और आसपास के शहरों में रहने वाले अभिजात्य वर्ग के लिए दिलचस्प अनुभवों और रोमांचक गतिविधियों के लिए एक शीर्ष आयोजन बनने के उद्देश्य के साथ वापस आ रहा है। कार्यक्रम में कई प्रभावशाली प्रतिभागी लग्जरी लाइफस्टाइल के नए ट्रेंड्स का प्रदर्शन और प्रतिनिधित्व करेंगे। 

 अलेख्या बाय सुहानी की संस्थापक सुहानी गुरनानी ने कहा, "लुक्सो शो हमें अपने ग्राहकों से जुड़ने और अपने अनूठे डिजाइन प्रदर्शित करने के लिए एक मंच प्रदान कर रहा है। हम शो में भाग लेने और अपने ग्राहकों के साथ जुड़ने के लिए बेहद उत्सुक हैं।"  कासा डर्मा की संस्थापक डॉ. ऐश्वर्या चौहान ने भी इस आयोजन के लिए अपना उत्साह साझा किया।  उन्होंने कहा, "लुक्सो शो  हमारे ब्रांड को लखनऊ के निवासियों के सामने पेश करने का एक शानदार जरिया है। हमारा मानना है कि यह शो हमारे ब्रांड के आगे बढ़ाने में योगदान देगा।"

द सेंट्रम के संस्थापक सर्वेश गोयल ने द लुक्सो शो   के आयोजन स्थल भागीदार होने पर गर्व व्यक्त किया।  उन्होंने कहा, "हमें विश्वास है कि सेंट्रम की अत्याधुनिक सुविधा इस आयोजन के लिए एक आदर्श मेजबान स्थल होगी। हमें पूरा विश्वास है कि यह शो भारी सफलता हासिल करेगा।" जश्न रियल्टी के डायरेक्टर राहुल अग्रवाल ने "द लक्सो शो" के बारे में बात करते हुए कहा, "परंपराओं की समृद्ध संयोजन  के साथ तैयार किया गया द लक्सो शो एक ऐसा अद्वितीय शो है, जिसके हर रूप में ऐश्वर्य झलकता है।"

राहुल जैन, प्रेसिडेंट एंड  हेड, नुवामा वेल्थ ने कहा, "हमें ऐसे विविधता से भरे शो के लिए लक्सो टीम के साथ साझेदारी करके बेहद प्रसन्नता हो रही है, जो हर रूप में लग्जरी को प्रदर्शित करता है। लक्सो अपने दर्शकों की लक्जरी जरूरतों को समझने और वन-स्टॉप शॉप के रूप में जाना जाता है।  ऐसी जरूरतों के लिए नुवामा वेल्थ एक अनूठा और एकमात्र स्थान है, जो अभिजात्य और संपन्न लोगों से लेकर कॉरपोरेट तक ग्राहकों के विविध समूह को अनुकूलित सेवाएं और समाधान प्रदान करता है। ऐसे में हमारा सहयोग स्वाभाविक है। यह सहयोग हामी ग्राहकों को बेहतर अनुभव प्रदान करेगा।"

द लुक्सो शो के को फाउंडर और सीईओ रोहन सिंह ने शो के बारे में बात करते हुए कहा,"हम इस बार द लुक्सो शो  में रितु कुमार और सामंत चौहान का स्वागत करते हुए बेहद रोमांचित हैं। उनके रचनात्मक विचार और कलात्मक दृष्टिकोण हमारे कार्यक्रम के शानदार और स्टाइलिश माहौल से पूरी तरह मेल खाते हैं। हमें विश्वास है कि द लुक्सो शो का यह सेकंड एडिशन लक्जरी शोज के लिए नए मानक स्थापित करेगा। ब्रांड और प्रतिभागियों की विविधता हमारे मेहमानों के लिए एक अद्वितीय अनुभव पेश करेगी।"

Comments

Popular posts from this blog

आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है!

-आध्यात्मिक लेख  आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है! (1) मृत्यु के बाद शरीर मिट्टी में तथा आत्मा ईश्वरीय लोक में चली जाती है :विश्व के सभी महान धर्म हिन्दू, बौद्ध, ईसाई, मुस्लिम, जैन, पारसी, सिख, बहाई हमें बताते हैं कि आत्मा और शरीर में एक अत्यन्त विशेष सम्बन्ध होता है इन दोनों के मिलने से ही मानव की संरचना होती है। आत्मा और शरीर का यह सम्बन्ध केवल एक नाशवान जीवन की अवधि तक ही सीमित रहता है। जब यह समाप्त हो जाता है तो दोनों अपने-अपने उद्गम स्थान को वापस चले जाते हैं, शरीर मिट्टी में मिल जाता है और आत्मा ईश्वर के आध्यात्मिक लोक में। आत्मा आध्यात्मिक लोक से निकली हुई, ईश्वर की छवि से सृजित होकर दिव्य गुणों और स्वर्गिक विशेषताओं को धारण करने की क्षमता लिए हुए शरीर से अलग होने के बाद शाश्वत रूप से प्रगति की ओर बढ़ती रहती है। (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है : (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है :हम आत्मा को एक पक्षी के रूप में तथा मानव शरीर को एक पिजड़े के समान मान सकते है। इस संसार में रहते हुए

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का किया ऐलान जानिए किन मांगों को लेकर चल रहा है प्रदर्शन लखनऊ 2 जनवरी 2024 लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार और कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का भी है किया ऐलान इनकी मांगे इस प्रकार है पुनरीक्षित वेतनमान-5200 से 20200 ग्रेड पे- 1800 2- स्थायीकरण व पदोन्नति (ए.सी.पी. का लाभ), सा वेतन चिकित्सा अवकाश, मृत आश्रित परिवार को सेवा का लाभ।, सी.पी. एफ, खाता खोलना।,  दीपावली बोनस ।

भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन

भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन लखनऊ, जुलाई 2023, अयोध्या के श्री धर्महरि चित्रगुप्त मंदिर में भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन  किया गया। बलदाऊजी द्वारा संकलित तथा सावी पब्लिकेशन लखनऊ द्वारा प्रकाशित इस पुस्तक का विमोचन संत शिरोमणी श्री रमेश भाई शुक्ल द्वारा किया गया जिसमे आदरणीय वेद के शोधक श्री जगदानंद झा  जी भी उपस्थित रहै उन्होने चित्रगुप्त भगवान् पर व्यापक चर्चा की।  इस  अवसर पर कई संस्था प्रमुखो ने श्री बलदाऊ जी श्रीवास्तव को शाल पहना कर सम्मानित किया जिसमे जेo बीo चित्रगुप्त मंदिर ट्रस्ट,  के अध्यक्ष श्री दीपक कुमार श्रीवास्तव, महामंत्री अमित श्रीवास्तव कोषाध्यक्ष अनूप श्रीवास्तव ,कयस्थ संध अन्तर्राष्ट्रीय के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिनेश खरे, अ.भा.का.म के प्रदेश अध्यक्ष श्री उमेश कुमार जी एवं चित्रांश महासभा के कार्वाहक अध्यक्ष श्री संजीव वर्मा जी के अतिरिक्त अयोध्या नगर के कई सभासद भी सम्मान मे उपस्थित रहे।  कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के अध्यक्ष दीपक श्रीवास्तव जी ने की एवं समापन महिला अध्यक्ष श्री मती प्रमिला श्रीवास्तव द्वारा किया गया। कार्यक्रम