शिया सुन्नी धर्मगुरुओं ने राजनाथ सिंह से की मुलाकात

शिया सुन्नी धर्मगुरुओं ने राजनाथ सिंह से की मुलाकात

  • वफ़ा अब्बास द्वारा किए जा रहे सामाजिक कार्यों कि सूचना मुझे मिलती रहती है,मेरा आशीर्वाद इनके साथ है: राजनाथ सिंह
  • धर्मगुरुओं ने देश की तरक्की और खुशहाली के लिए की दुआ 

लखनऊ।राजधानी की चर्चित सामाजिक संस्थान अम्बर फाउंडेशन के चेयरमैन वफ़ा अब्बास द्वारा पिछले 1 वर्ष से लगातार भारत के रक्षा मंत्री एवं लखनऊ के हर दिल अज़ीज़ सांसद शेर ए हिंद राजनाथ सिंह जी, रक्षा मंत्री,भारत सरकार एवं संसद लखनऊ की प्रेरणा से निशुल्क नेत्र चिकित्सा शिविर के द्वारा लखनऊ के ग़रीब ज़रूरतमंद हज़ारों लोगों को निशुल्क चश्मा वितरण के साथ-साथ मोतियाबिंद का ऑपरेशन ग़रीब ज़रूरतमंद बच्चों की स्कूल की फीस एवं ज़रूरतमंद ग़रीब लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचा रहे हैं।वफ़ा अब्बास द्वारा बिना भेदभाव के निस्वार्थ समाज सेवा के जज़्बे से प्रेरित होकर शहर के सभी धर्मों के धर्मगुरु सियासत से ऊपर उठकर सामाजिक कार्यों से प्रेरित होकर वफ़ा अब्बास से जुड़ रहे हैं। इसी कड़ी में सुन्नी समुदाय के लोकप्रिय धर्मगुरु काज़ी ए शहर हज़रत मौलाना अबुल इरफान मियां फिरंगी महली साहब एवं शिया धर्मगुरु हुज्जातुल इस्लाम हज़रत मौलाना सय्यद सफी हैदर साहब ने वफ़ा अब्बास के साथ राजनाथ सिंह जी के दिल्ली में स्थित उनके आवास पर उनसे मुलाकात की।माननीय राजनाथ सिंह जी ने बड़ी खुशी के साथ खड़े होकर दोनों धर्मगुरुओं का स्वागत किया दोनों धर्मगुरुओं ने राजनाथ सिंह जी को बहुत सारी दुआओं से नवाज़ा मौलाना अबुल इरफान मियां फिरंगी महली ने माननीय सांसद जी से बातचीत करते हुए कहा कि हमारा खानदान पिछले 350 वर्षों से लगातार देश  हित एवं समाज सेवा में समर्पित है।वहीं मौलाना सय्यद सफी हैदर साहब ने अपनी बात रखते हुए कहा कि तनज़ीमुल मकातीब पिछले 55 वर्षों से लगातार 1200 से ज़्यादा मकतबों (स्कूलों) एवं 50000 से ज़्यादा विद्यार्थियों को पढ़ा रहा है।अब तक लाखों करोड़ों बच्चों को शिक्षित कर चुका है और सभी विद्यार्थी देश और विदेश में बड़े-बड़े पदों पर कार्यरत हैं और उनमें से सभी देश के विकास में लगे है, सब देश, राष्ट्र और समाज हित मे काम कर रहे हैं यह अपने आप में एक बहुत बड़ी मिसाल है सफी हैदर साहब ने राजनाथ सिंह जी को मुस्लिम धर्म के रहनुमा मौला ए कायनात हज़रत अली अलैहिस्सलाम ने अपने ख़िलाफत के दौर में उस वक्त के गवर्नर को बेहतर सरकार चलाने के लिए एक पत्र लिखा था जिसमें सरकार चलाने के सम्बंध में बहुत अहम बातें लिखी हुई थी उस पत्र को उन्होंने राजनाथ सिंह जी को भेंट किया राजनाथ सिंह जी ने कहा कि मैं समय निकालकर 1400 साल पुराने इस पत्र को समय निकालकर ज़रूर पढ़ूंगा।दोनों धर्मगुरुओं ने यह भी कहा कि हमने आज तक किसी भी राजनीतिक पार्टी को सपोर्ट नहीं किया है,मगर वफ़ा अब्बास जिस तरह आप की प्रेरणा से समाज की सेवा कर रहे हैं इनके इस निस्वार्थ जज़्बे को देखकर हम भी आप के विचारों से प्रेरित हुए हैं और हम चाहते हैं कि मुस्लिम समाज के शिया और सुन्नी के साथ साथ सभी मुस्लिम धर्मगुरु सब मिलकर देश एवं राष्ट्रहित में काम करें। 

दोनों धर्म गुरुओं की यह बात सुनकर माननीय राजनाथ सिंह जी भावुक हो गए और उन्होंने कहा कि लखनऊ के मुस्लिम समाज ने मेरा साथ दिया तो मैं समस्त विश्व में गंगा जमुनी इस संस्कृति को एक नज़ीर बनाकर पेश करूंगा और बहुत जल्द ही यह देश विश्व गुरु के पथ पर अग्रसर है और जल्द ही पूरे विश्व में विश्व गुरु कहलायेगा राजनाथ सिंह ने कहा की वफ़ा अब्बास द्वारा किए जा रहे सामाजिक कार्यों कि मुझे सूचना मिलती रहती है मेरा आशीर्वाद इनके साथ है यह इसी तरह देश और देशवासियों की निस्वार्थ सेवा करते रहें और सबको एकता की डोर में बांधकर लोगों के दिलों से आपसी भेदभाव का मैल साफ करके एक स्वस्थ,स्वच्छ और अखंड भारत का निर्माण करें। 

अंत में मौलाना अबुल इरफान मियां फिरंगी महली साहब ने अक़ीदतों और मोहब्बतों की चादर लखनऊ के सभी मुस्लिम समाज की ओर से माननीय राजनाथ सिंह जी को पेश की और दोनों धर्मगुरुओं ने भारत देश की तरक्की और खुशहाली के लिए दुआ की।

Comments

Popular posts from this blog

आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है!

बैंक ऑफ़ बड़ौदा द्वारा 'बड़ौदा जन धन प्लस' की शुरुआत

व्यापारी निर्भीक होकर अपने बाजार खोलें अब नहीं होगी छापेमारी - संदीप बंसल