Skip to main content

पत्रकार सईद हाशमी के सम्मान में काव्य गोष्ठी का आयोजन

पत्रकार सईद हाशमी के सम्मान में काव्य गोष्ठी का आयोजन

जौनपुर:-2 December , नगर के मोहल्ला शेख मुहामीद स्थित अनवार मंज़िल शायर अनवारुल हक़ अनवार के आवास पर लखनऊ से आये पत्रकार,संस्थापक अध्यक्ष अदब कल्चर एंड वेलफेयर सोसाइटी उत्तर प्रदेश,डायरेक्टर हाशमी इंटरनेशनल टूर एन्ड ट्रेवेल्स सईद हाशमी के सम्मान में क़ासमी फाउंडेशन के बैनर तले एक काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसकी सरपरस्ती शायर अनवारुल हक़ अनवार और अध्यक्षता उस्ताद शायर अकरम जौनपुर ने की। मुख्य अतिथि के रूप में सईद हाशमी मौजूद रहे।

प्रोग्राम की शुरुआत शायर मोनिस जौनपुरी ने नात ए पाक से किया उसके बाद कन्वीनर पत्रकार अजवद क़ासमी ने समस्त अतिथियों का गुलपोशी करके एवं तुग़रा भेंट करके अभिनन्द एवं स्वागत किया। उसके बाद बीते दिनों नगर के मुफ़्ती मोहल्ला में आयोजित ऑल यूपी तरही नज़्म ख़्वानी में प्रथम पुरुस्कार प्राप्त करने वाली अंजुमन फतह ए मोहम्मदिया ने शायर शजर जौनपुरी के कलाम को पढ़कर श्रोताओं को मनमुग्ध करदिया। साथ ही सम्मान समारोह में आये नगर के कवियों व शायरों ने अपने अपने कलाम पढ़कर लोगों से वाह वाह बटोरी। जिसकी कुछ पंक्तियां आपके समक्ष हैं।


मुन्तख़ब अशआर 

शोहरतों की कभी ख़्वाहिश नहीं होने पाती

हम फ़क़ीरों से नुमाइश नहीं होने पाती

अकरम जौनपुरी


ये जो सूरज सहर में डूबा है

इसमें साज़िश है कुछ सितारों की

मज़हर आसिफ़


बात करते हैं लाला ज़ारों की

परवरिश कर रहे हैं खारों की

अनवारूल हक़ अनवार


जो सुबह तलक चश्म ए फ़लक रोती रही है

क्या दामन ए गुल पे वही शबनम तो नहीं है

ख़लील इब्न ए असर जौनपुरी


दिये हैं जो तूने वो हैं ज़ख़्म कैसे

ज़रा ज़ख़्म ए ग़म की दवा बनके देखो

शजर जौनपुरी


पहले दिल व दिमाग़ गया फ़िर नज़र गयी

घुटनों के साथ साथ हमारी कमर गयी

मुसताईंन जौनपुरी


इसके अतिरिक्त मोनिस जौनपुरी,ज़िया जौनपुरी, अहमद हफ़ीज़,अमृत प्रकाश,आर पी सोनकर,शोहरत जौनपुरी ने भी काव्य पाठ किया मुख्य अतिथि सईद हाशमी ने अपने सम्बोधन में कहा कि शीराज़ ए जौनपुर एक ऐतिहासिक जनपद है जिसके बारे में अक्सर किताबों में पढ़ता रहा और लोगों से सुनता था मगर आज मुझे स्वयं इस शहर की खूबसूरती को निहारने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है और जौनपुर हिन्दू मुस्लिम एकता का हमेशा से अलम बरदार रहा है और आज समस्त शायरों का कलाम सुनकर मैं इस शहर के शिक्षा व अदब का केंद्र होने का क़ायल हो गया हुँ। उन्होंने कहा कि आज मैं इस मंच से एलान करता हूँ कि गणतंत्र दिवस के अवसर पर एक कुलहिंद मुशायरा व कवी सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा जो अदब कल्चर एंड वेलफेयर सोसाइटी उत्तर प्रदेश के तत्वावधान में होगा।

संचालन मज़हर आसिफ़ ने किया,अंत में कन्वीनर अजवद क़ासमी ने समस्त कवियों और श्रोताओं के प्रति आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर अनवारुल हक़ गुड्डु,साजिद अलीम सभासद,कमालुद्दीन अंसारी,हफ़ीज़ शाह अध्यक्ष मरकज़ी सीरत कमेटी,अज़ीज़ फरीदी,अज़मत खान,अबुल ख़ैर,डॉ अर्शी नवाज़,मेराज अहमद,साजिद अनवार,माजिद अनवार,अशफ़ाक़ मंसूरी,कलीम अहमद,अज़हर शमीम,अंसार इदरीसी आदि उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है!

-आध्यात्मिक लेख  आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है! (1) मृत्यु के बाद शरीर मिट्टी में तथा आत्मा ईश्वरीय लोक में चली जाती है :विश्व के सभी महान धर्म हिन्दू, बौद्ध, ईसाई, मुस्लिम, जैन, पारसी, सिख, बहाई हमें बताते हैं कि आत्मा और शरीर में एक अत्यन्त विशेष सम्बन्ध होता है इन दोनों के मिलने से ही मानव की संरचना होती है। आत्मा और शरीर का यह सम्बन्ध केवल एक नाशवान जीवन की अवधि तक ही सीमित रहता है। जब यह समाप्त हो जाता है तो दोनों अपने-अपने उद्गम स्थान को वापस चले जाते हैं, शरीर मिट्टी में मिल जाता है और आत्मा ईश्वर के आध्यात्मिक लोक में। आत्मा आध्यात्मिक लोक से निकली हुई, ईश्वर की छवि से सृजित होकर दिव्य गुणों और स्वर्गिक विशेषताओं को धारण करने की क्षमता लिए हुए शरीर से अलग होने के बाद शाश्वत रूप से प्रगति की ओर बढ़ती रहती है। (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है : (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है :हम आत्मा को एक पक्षी के रूप में तथा मानव शरीर को एक पिजड़े के समान मान सकते है। इस संसार में रहते हुए

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का किया ऐलान जानिए किन मांगों को लेकर चल रहा है प्रदर्शन लखनऊ 2 जनवरी 2024 लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार और कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का भी है किया ऐलान इनकी मांगे इस प्रकार है पुनरीक्षित वेतनमान-5200 से 20200 ग्रेड पे- 1800 2- स्थायीकरण व पदोन्नति (ए.सी.पी. का लाभ), सा वेतन चिकित्सा अवकाश, मृत आश्रित परिवार को सेवा का लाभ।, सी.पी. एफ, खाता खोलना।,  दीपावली बोनस ।

भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन

भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन लखनऊ, जुलाई 2023, अयोध्या के श्री धर्महरि चित्रगुप्त मंदिर में भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन  किया गया। बलदाऊजी द्वारा संकलित तथा सावी पब्लिकेशन लखनऊ द्वारा प्रकाशित इस पुस्तक का विमोचन संत शिरोमणी श्री रमेश भाई शुक्ल द्वारा किया गया जिसमे आदरणीय वेद के शोधक श्री जगदानंद झा  जी भी उपस्थित रहै उन्होने चित्रगुप्त भगवान् पर व्यापक चर्चा की।  इस  अवसर पर कई संस्था प्रमुखो ने श्री बलदाऊ जी श्रीवास्तव को शाल पहना कर सम्मानित किया जिसमे जेo बीo चित्रगुप्त मंदिर ट्रस्ट,  के अध्यक्ष श्री दीपक कुमार श्रीवास्तव, महामंत्री अमित श्रीवास्तव कोषाध्यक्ष अनूप श्रीवास्तव ,कयस्थ संध अन्तर्राष्ट्रीय के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिनेश खरे, अ.भा.का.म के प्रदेश अध्यक्ष श्री उमेश कुमार जी एवं चित्रांश महासभा के कार्वाहक अध्यक्ष श्री संजीव वर्मा जी के अतिरिक्त अयोध्या नगर के कई सभासद भी सम्मान मे उपस्थित रहे।  कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के अध्यक्ष दीपक श्रीवास्तव जी ने की एवं समापन महिला अध्यक्ष श्री मती प्रमिला श्रीवास्तव द्वारा किया गया। कार्यक्रम