Skip to main content

नीति आयोग के अनुसार उत्तर प्रदेश सरकार, स्थानीय प्रशासन ने मा0 मुख्यमंत्री जी के निर्देशन में कोविड-19 के मैनेजमेंट के लिए बेहतर कार्य किया है

नीति आयोग के अनुसार उत्तर प्रदेश सरकार, स्थानीय प्रशासन ने मा0 मुख्यमंत्री जी के निर्देशन में कोविड-19 के मैनेजमेंट के लिए बेहतर कार्य किया है



  • उत्तर प्रदेश में स्थिति बेहतर है, कोरोना के संक्रमण के कम होने के बावजूद भी प्रदेश में कोरोना की टेस्टिंग घटाई नहीं गयी है, 

  • प्रदेश मंे प्रतिदिन लगभग डेढ़ लाख की टेस्टिंग प्रतिदिन की जा रही है

  • मा0 मुख्यमंत्री जी ने आज अपनी समीक्षा में यह निर्देश दिये है कि अस्पतालों की तैयारी में कोई कमी न रखी जाए

  • सीमावर्ती जनपदों सहित जिन जनपदों में कोरोना संक्रमण के केस बढ़ रहे है, वहां पर विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है

  • जिलाधिकारी सुबह-शाम प्रत्येक दिन कोविड अस्पताल में तथा इन्टीग्रेड कंट्रोल कमाण्ड सेन्टर में बैठक करके यह सुनिश्चित करे कि सभी व्यवस्था पूर्ण रूप से व्यवस्थित रहेे

  • 13 नवम्बर को अयोध्या में दीपोत्सव मनाया जायेगा, इस बार विशेष प्रयास किया जा रहा है

  • इस बार कोविड-19 के चलते स्थानीय दीप प्रज्जवल के साथ-साथ डिजिटल दीपोत्सव मनाया जायेगा

  • पिछले वर्ष से इस बार और अच्छा दीपोत्सव करने का प्रयास है, अतिशबाजी के स्थान पर कोल्ड फ्रोज और लेजर के माध्यम से अतिशबाजी का शो किया जायेगा

  • प्रदेश में आर्थिक गतिविधियां और अधिक तेजी से बढ़ें, इसके लिए प्रदेश सरकार लगातार प्रयास कर रही है

  • प्रतिदिन बैंकों के साथ अनुश्रवण करते हुए नई एम0एस0एम0ई0 इकाइयां स्थापित कर आर्थिक गतिविधियां बढ़ाने और रोजगार सृजित करने का प्रयास किया जा रहा है

  • प्रदेश में अद्यतन 4.37 लाख इकाईयों को आत्मनिर्भर पैकेज के अन्तर्गत रू0 10,847 करोड के ऋण स्वीेकृत कर वितरित किये जा रहे हैं

  • आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार/स्वरोजगार सृजन अभियान में इस वित्तीय वर्ष में 14 मई से आजतक लगभग 5.96 लाख नई डैडम् इकाईयों को 
    रू0 15,914 करोड रूपये के ऋण वितरण किया गया है

  • इन इकाईयों के माध्यम से 25 लाख रोजगार सृजन हुआ है

  • प्रदेश में चीनी मिले प्रारम्भ कर दी गयी है, गन्ना किसानों को 01 लाख 08 हजार करोड़ का भुगतान पिछले तीन सालों में किया गया जो सर्वाधिक रिकार्ड है

  • किसानों को कठिनाई न हो इसलिए कोविड संक्रमण में  भी चीनी मिले लगातार चालू रही, 

  • प्रदेश सरकार ने भी नई चीनी मिले भी स्थापित की है इसके साथ ही खाण्डसारी लाइसेंस में निर्गत करने के नियमों में शिथिलता की गयी है

  • जिलाधिकारी की यह जिम्मेदारी है कि किसानों को किसी प्रकार की समस्या न होे तथा धान क्रय केन्द्र सुचारू रूप से कार्य करे

  • धान क्रय केन्द्रांे पर जिलाधिकारी द्वारा निरन्तर अनुश्रवण तथा आकस्मिक निरीक्षण करे

  • लापरवाही करने वाले कर्मचारियांे व अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही की गयी

  • लापरवाही के लिए वरिष्ठ अधिकारियों का निलम्बन किया गया 

  • धान और मक्का की खरीद का भुगतान 72 घंटे के अन्दर सुनिश्चित किया जाय

  • अब तक किसानों से 85 लाख कु0 धान की खरीद की जा चुकी है

  • अब तक किसानों से 4652.76 मी0 टन मक्का की खरीद की जा चुकी है -श्री नवनीत सहगल

  • प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,38,253 सैम्पल की जांच की गयी

  • प्रदेश में अब तक कुल 1,62,27,845 सैम्पल की जांच की गयी है

  • प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना सेे संक्रमित 1636 नये मामले आये हैं

  • प्रदेश में 22,965 कोरोना के एक्टिव मामले हैं

  • अब तक 4,69,003 कोविड-19 से ठीक होकर पूर्ण उपचारित हो चुके है

  • आज आर0टी0पी0सी0आर0 सरकारी लैब से 56,591 तथा आर0टी0पी0सी0आर0 निजी लैब से 2260 कोविड-19 की टेस्टिंग की गयी है -श्री आलोक कुमार


लखनऊ: 09 नवम्बर, 2020


उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना श्री नवनीत सहगल ने लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि सीमावर्ती जनपदों सहित जिन जनपदांे में कोरोना संक्रमण के केस बढ़ रहे है, वहां पर विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। नीति आयोग के अनुसार उत्तर प्रदेश सरकार, स्थानीय प्रशासन ने मा0 मुख्यमंत्री जी के निर्देशन में कोविड-19 के मैनेजमेंट के लिए बेहतर कार्य किया है। उत्तर प्रदेश में स्थिति बेहतर है। कोरोना के संक्रमण के कम होने के बावजूद भी प्रदेश में कोरोना की टेस्टिंग घटाई नहीं गयी है, प्रतिदिन लगभग डेढ़ लाख की टेस्टिंग प्रतिदिन की जा रही है। मा0 मुख्यमंत्री जी ने आज अपनी समीक्षा में यह निर्देश दिये है कि अस्पतालों की तैयारी में कोई कमी न रखी जाए। जिलाधिकारी सुबह-शाम प्रत्येक दिन कोविड अस्पताल में तथा इन्टीग्रेड कंट्रोल कमाण्ड सेन्टर में बैठक करके यह सुनिश्चित करे कि सभी व्यवस्था पूर्ण रूप से व्यवस्थित रहेे। सभी नागरिकों को जागरूक करते रहे कि संक्रमण कम होने का मतलब ये नहीं कि संक्रमण पूर्ण खत्म नहीं हुआ है, सभी जगह सावधानी रखे, जागरूक रहे, मास्क पहने, हाथ धोये तथा सोशल डिस्टेसिंग का पालन अवश्य करे। प्रदेश में कुछ जनपदों में संक्रमण बढ़ने से हाॅटस्पाॅट की संख्या बराबर है, कन्टेमेंट जोन में भी थोड़ी कमी आई है। उन्होंने बताया कि 13 नवम्बर को अयोध्या में दीपोत्सव मनाया जायेगा, इस बार विशेष प्रयास किया जा रहा है। पिछले वर्ष से इस बार और अच्छा दीपोत्सव करने का प्रयास है। अतिशबाजी के स्थान पर कोल्ड फ्रोज और लेजर के माध्यम से अतिशबाजी का शो किया जायेगा। इस बार कोविड-19 के चलते स्थानीय दीप प्रज्जवल के साथ-साथ डिजिटल दीपोत्सव मनाया जायेगा।


श्री सहगल ने बताया कि प्रदेश में आर्थिक गतिविधियां और अधिक तेजी से बढ़ें, इसके लिए प्रदेश सरकार लगातार प्रयास कर रही है। प्रतिदिन बैंकों के साथ अनुश्रवण करते हुए नई एम0एस0एम0ई0 इकाइयां स्थापित कर आर्थिक गतिविधियां बढ़ाने और रोजगार सृजित करने का प्रयास किया जा रहा है। प्रदेश में अद्यतन 4.37 लाख इकाईयों को आत्मनिर्भर पैकेज के अन्तर्गत रू0 10,847 करोड के ऋण स्वीेकृत कर वितरित किये जा रहे हैं।  आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार/स्वरोजगार सृजन अभियान में इस वित्तीय वर्ष में 14 मई से आजतक लगभग 5.96 लाख नई डैडम् इकाईयों को रू0 15,914 करोड रूपये के ऋण वितरण किया गया है। उन्होंने बताया कि इन इकाईयों के माध्यम से 25 लाख रोजगार सृजन हुआ है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में चीनी मिले प्रारम्भ कर दी गयी है। उन्होंने बताया कि गन्ना किसानों को 01 लाख 08 हजार करोड़ का भुगतान पिछले तीन सालों में किया गया जो सर्वाधिक रिकार्ड है। कोविड संक्रमण में भी चीनी मिले लगातार चालू रही, जिससे किसानों को कठिनाई न हो, प्रदेश सरकार ने यह प्रयास किया है। प्रदेश सरकार ने भी नई चीनी मिले भी स्थापित की है इसके साथ ही खाण्डसारी लाइसेंस में शिथिलता की गयी है। गन्ना किसानों को सभी सहूलियत प्रदेश सरकार द्वारा दी जा रही है।  


श्री सहगल ने बताया कि मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा निरन्तर धान खरीद की समीक्षा की जा रही है। इस संबंध में सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि किसानों के धान की खरीद समय से हो तथा उन्हें धान व मक्का का न्यूनतम समर्थन मूल्य अवश्य मिले। धान और मक्का की खरीद का भुगतान 72 घंटे के अन्दर सुनिश्चित किया जाये। मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि जिलाधिकारी की यह जिम्मेदारी है कि किसानों को किसी प्रकार की समस्या न होे तथा क्रय केन्द्र सुचारू रूप से कार्य करे। अधिकारियो/कर्मचारियों द्वारा लापरवाही करने पर उनके विरूद्ध कार्यवाही की गयी है तथा शिकायत मिलने पर वरिष्ठ अधिकारियों को निलम्बित भी किया गया है। धान क्रय केन्द्र पर शिकायत मिलने पर जिलाधिकारी की जिम्मेदारी होगी। धान क्रय केन्द्रांे पर जिलाधिकारी द्वारा निरन्तर अनुश्रवण तथा आकस्मिक निरीक्षण करे। अब तक किसानों से 85 लाख कु0 धान की खरीद की जा चुकी है। अब तक किसानों से 4652.76 मी0 टन मक्का की खरीद की जा चुकी है।


प्रदेश के प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अलोक कुमार ने कहा कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,38,253 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 1,62,27,845 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना सेे संक्रमित 1636 नये मामले आये हैं। प्रदेश में 22,965 कोरोना के एक्टिव मामले हैं। उन्होंने बताया कि अब तक 4,69,003 कोविड-19 से ठीक होकर पूर्ण उपचारित हो चुके है। उन्होंने बताया कि आज आर0टी0पी0सी0आर0 सरकारी लैब से 56,591 तथा आर0टी0पी0सी0आर0 निजी लैब से 2260 कोविड-19 की टेस्टिंग की गयी है। उन्होंने कहा कि त्योहारों के अवसर पर लोगों को विशेष सर्तकता बरतने की आवश्यकता है।


Comments

Popular posts from this blog

आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है!

-आध्यात्मिक लेख  आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है! (1) मृत्यु के बाद शरीर मिट्टी में तथा आत्मा ईश्वरीय लोक में चली जाती है :विश्व के सभी महान धर्म हिन्दू, बौद्ध, ईसाई, मुस्लिम, जैन, पारसी, सिख, बहाई हमें बताते हैं कि आत्मा और शरीर में एक अत्यन्त विशेष सम्बन्ध होता है इन दोनों के मिलने से ही मानव की संरचना होती है। आत्मा और शरीर का यह सम्बन्ध केवल एक नाशवान जीवन की अवधि तक ही सीमित रहता है। जब यह समाप्त हो जाता है तो दोनों अपने-अपने उद्गम स्थान को वापस चले जाते हैं, शरीर मिट्टी में मिल जाता है और आत्मा ईश्वर के आध्यात्मिक लोक में। आत्मा आध्यात्मिक लोक से निकली हुई, ईश्वर की छवि से सृजित होकर दिव्य गुणों और स्वर्गिक विशेषताओं को धारण करने की क्षमता लिए हुए शरीर से अलग होने के बाद शाश्वत रूप से प्रगति की ओर बढ़ती रहती है। (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है : (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है :हम आत्मा को एक पक्षी के रूप में तथा मानव शरीर को एक पिजड़े के समान मान सकते है। इस संसार में रहते हुए

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का किया ऐलान जानिए किन मांगों को लेकर चल रहा है प्रदर्शन लखनऊ 2 जनवरी 2024 लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार और कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का भी है किया ऐलान इनकी मांगे इस प्रकार है पुनरीक्षित वेतनमान-5200 से 20200 ग्रेड पे- 1800 2- स्थायीकरण व पदोन्नति (ए.सी.पी. का लाभ), सा वेतन चिकित्सा अवकाश, मृत आश्रित परिवार को सेवा का लाभ।, सी.पी. एफ, खाता खोलना।,  दीपावली बोनस ।

भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन

भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन लखनऊ, जुलाई 2023, अयोध्या के श्री धर्महरि चित्रगुप्त मंदिर में भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन  किया गया। बलदाऊजी द्वारा संकलित तथा सावी पब्लिकेशन लखनऊ द्वारा प्रकाशित इस पुस्तक का विमोचन संत शिरोमणी श्री रमेश भाई शुक्ल द्वारा किया गया जिसमे आदरणीय वेद के शोधक श्री जगदानंद झा  जी भी उपस्थित रहै उन्होने चित्रगुप्त भगवान् पर व्यापक चर्चा की।  इस  अवसर पर कई संस्था प्रमुखो ने श्री बलदाऊ जी श्रीवास्तव को शाल पहना कर सम्मानित किया जिसमे जेo बीo चित्रगुप्त मंदिर ट्रस्ट,  के अध्यक्ष श्री दीपक कुमार श्रीवास्तव, महामंत्री अमित श्रीवास्तव कोषाध्यक्ष अनूप श्रीवास्तव ,कयस्थ संध अन्तर्राष्ट्रीय के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिनेश खरे, अ.भा.का.म के प्रदेश अध्यक्ष श्री उमेश कुमार जी एवं चित्रांश महासभा के कार्वाहक अध्यक्ष श्री संजीव वर्मा जी के अतिरिक्त अयोध्या नगर के कई सभासद भी सम्मान मे उपस्थित रहे।  कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के अध्यक्ष दीपक श्रीवास्तव जी ने की एवं समापन महिला अध्यक्ष श्री मती प्रमिला श्रीवास्तव द्वारा किया गया। कार्यक्रम