सी.एम.एस. गोमती नगर ऑडिटोरियम में विश्व एकता सत्संग का आयोजन 


सी.एम.एस. गोमती नगर ऑडिटोरियम में विश्व एकता सत्संग का आयोजन 


बच्चों में अहिंसा के विचार डालना अतिआवश्यक -- डा. (श्रीमती) भारती गाँधी, प्रख्यात शिक्षाविद् व संस्थापिका-निदेशिका, सी.एम.एस.


लखनऊ । सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर ऑडिटोरियम में आयोजित विश्व एकता सत्संग में बोलते हुए सी.एम.एस. संस्थापिका-निदेशिका, प्रख्यात शिक्षाविद् एवं बहाई अनुयायी डा. भारती गाँधी ने कहा कि अहिंसा सर्वश्रेष्ठ गुण है और सभी बच्चों में इस विचार का समावेश अत्यन्त आवश्यक है। इसी अहिंसा के विचार की बदौलत महात्मा गाँधी ने बिना हिंसा के ही देश को स्वतन्त्र करा लिया थाआज दुनिया में हिंसक विचारों की बाढ़ आई हुई है, विभिन्न देशों में चल रहे युद्ध और आतंकवाद जैसी चीजे इसी का परिणाम है, जिसका मुकाबल अहिंसा के विचारों का प्रचार-प्रसार करके ही किया जा सकता है। डा. गाँधी ने जोर देते हुए कहा कि दुनिया से युद्ध खत्म होना चाहिए तथा विश्व में एकता एवं शांन्ति की स्थापना होनी चाहिए और इसके लिए बच्चों में अहिंसा के विचार डालना अतिआवश्यक है। इससे पहले, विश्व एकता सत्संग का शुभारम्भ दीप प्रज्वलन एवं सी.एम.एस. के संगीत शिक्षकों द्वारा सुमधुर भजनों से हुआ। इस अवसर पर कई जाने-माने विद्वानों एवं विभिन्न धर्मावलम्बियों ने भी अपने सारगर्भित विचार व्यक्त किये। अन्त में सत्संग की संयोजिका श्रीमती वंदना गौड़ ने सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया।


Comments

Popular posts from this blog

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के नगर कार्यालय पर चुनाव का बिगुल बजा

किसानों के संघर्ष व दर्द की कहनी है फिल्म 'गोदाम' : सुजीत प्रताप

वरिष्ठ पत्रकार से रोड़वेज बस कंडक्टर ने की अभद्रता नहीं बैठाया बस में