Skip to main content

कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू जी ने संविधान दिवस पर आयोजित परिचर्चा में संविधान दिवस की सभी प्रदेश वासियों को बधाई दी


कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू जी ने संविधान दिवस पर आयोजित परिचर्चा में संविधान दिवस की सभी प्रदेश वासियों को बधाई दी


लखनऊ I उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू जी ने संविधान दिवस पर आयोजित परिचर्चा में संविधान दिवस की सभी प्रदेश वासियों को बधाई दी और कहा कि संविधान देश की आत्मा है जो लोग यहां पर रहते हैं जीवन जीते हैं उन्हें संविधान द्वारा अधिकार प्रदत्त करने का काम करता है। वर्तमान समय मे संविधान की आत्मा पर कुठाराघात और उसे कमजोर करने की कोशिश हो रही है। भारत जहां विभिन्न धर्मों भाषा और वर्गों के समावेशी रूप बना है वर्तमान सरकार के संविधान विरोधी कृत्यों में रवैये के चलते आम आदमी का अधिकार हनन हो रहा है। उन्होने कहाकि आर्थिक रिपोर्ट के अनुसार देश की अर्थव्यवस्था का बंटाधार हो रहा है, बेरोजगारी 45 साल में सबसे ज्यादा, शिक्षा की बुरी हालत जगजाहिर है। चाहे 1 से लेकर स्नानतकोत्तर हो या बेसिक शिक्षा सभी की हालत खराब है यदि सरकार की नियत होती तो रिक्त शिक्षको की भर्तियों को कर देती। गैर कांग्रेसी सरकारों में किस प्रकार लघु कुटीर उद्योगों पर हमला हुआ। 100000 हथकरघा उद्योग बन्द हो चुके हैं। मुरादाबाद पीतल उद्योग मेरठ में स्पोर्ट्स उद्योग सभी की हालत खस्ता है , किस तरह निजी कारण फैलाने का काम किया जा रहा रेलवे, एयरपोर्ट सभी को बेचा जा रहा, यहां तक यूपी की 34 पॉलिटेक्निक को भी निजी करण किया जा रहा। आर्टिकल 15-16 को कमजोर किया जा रहा 68500 से अधिक शिक्षक भर्ती में भ्रष्टाचार हुआ। आर्टिकल 43-45 में किसानों के लिए नीति बनाने को अधिकार है लेकिन सरकार भाग रही। अपने घोषणा पत्र में कहा 14 दिन में गन्ना भुगतान करेंगें लेकिन अभी 3000 करोड़ से ज्यादा बकाया है। छत्तीसगढ़ में जहां धान का भाव 2500 रुपये है वह यहां 1800 से भी कम मिल रहा है।


प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जो सरकार जनता से और जनता के लिये होना चाहिये वहां जनता को भीड़ द्वारा मारा जा रहा। जहां अधिकारियों पर कार्यवाही लेकिन जिम्मेदार मंत्रियों को बचाया जा रहा डीएचएफएल कम्पनी का घोटाला जो इकबाल मिर्ची जैसे आतंकवाद देशद्रोही से मिली कम्पनी को पैसा दिया गया। होमगार्ड विभाग, ग्राम्य विकास मंत्री पर कार्यवाही नही होती और यह सरकार कहती है कि हम भ्रष्टाचार पर कड़ा प्रहार कर रहे हैं। 'आज सत्र था संविधान पर चर्चा होनी थी लोगों के अधिकार मालूम लेकिन सरकार के क्या अधिकार कर्तब्य हैं उससे कोई लेना देना नही इन्हें सिर्फ अडानी-अम्बानी से सिर्फ लेना देना है'।


कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता श्रीमती आराधना मिश्रा 'मोना' ने संविधान पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हम संविधान निर्माताओं के हमेशा ऋणी रहेंगे। उन्होने एक ऐसा संविधान हमको दिया जो अपने को सशक्त होने के साथ-साथ परिवर्तन रखने की क्षमता रखता है यही हमारी प्रगति का आधार है।कांग्रेस विधान परिषद दल के नेता श्री दीपक सिंह ने कहा कि संविधान भारत का वह पवित्र ग्रन्थ है जो विभिन्न धर्मों, जातियों एवं वर्गों को समानता का अधिकार देता है और संविधान के बल पर ही सभी एक सूत्र में बंधे हैं। विधि विभाग की प्रो0 प्रीति सक्सेना ने संविधान की आवश्यकता और उसके मूल्यों पर प्रकाश डाला। पूर्व जस्टिस श्री सभाजीत यादव ने पिछले 70 वर्षों कहा कि जनता के चुने प्रतिनिधियों के ऊपर बड़ी जिम्मेदारी है संविधान हम सबको अधिकार देता है और हमारी जिम्मेदारी है कि संविधान के अधिकारों का उपयोग करें और उसकी रक्षा करें। भारतीय संविधान की महत्ता और आज के समय में उसकी जरूरत के समय पर डा0 अनूप पटेल ने चर्चा की।



डाॅ0 मेराज अहमद ने भारतीय संविधान के निर्माण की प्रक्रिया और आधुनिक संदर्भों में व्याख्या और प्रस्तावना को प्रस्तुत किया।पूर्व सांसद श्री ब्रजलाल खाबरी वाइस चेयरमैन अनु0जाति विभाग ने भारतीय संविधान का राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया में योगदान के बारे में बताया। प्रो0 हिलाल नकवी जी ने भारतीय संविधान और वर्तमान समय में चुनौतियों के विषय पर चर्चा की। उत्तर प्रदेश कांग्रेस द्वारा लेक्चर सीरीज का प्रारंभ किया गया है जो आगे भी क्रमवार जारी रहेगा। कार्यक्रम में पूर्व मंत्री आर. के. चैधरी, प्रदेश सचिव एवं प्रभारी लखनऊ रमेश शुक्ला, श्री अंशू अवस्थी, श्री बृजेन्द्र कुमार सिंह, श्री ओंकार नाथ सिंह, सेवादल के अध्यक्ष डा0 प्रमोद कुमार पांडेय ने अपने विचार रखे। इस अवसर पर कार्यक्रम के उपरान्त सभी कांग्रेसजनों ने संविधान में निहित समता, स्वतंत्रता, बन्धुत्व, एकता और अखण्डता एवं लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए एवं उन्हे मजबूत बनाने के लिए जीवन भर प्रयासरत रहने की शपथ ली।


Comments

Popular posts from this blog

आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है!

-आध्यात्मिक लेख  आत्मा अजर अमर है! मृत्यु के बाद का जीवन आनन्द एवं हर्षदायी होता है! (1) मृत्यु के बाद शरीर मिट्टी में तथा आत्मा ईश्वरीय लोक में चली जाती है :विश्व के सभी महान धर्म हिन्दू, बौद्ध, ईसाई, मुस्लिम, जैन, पारसी, सिख, बहाई हमें बताते हैं कि आत्मा और शरीर में एक अत्यन्त विशेष सम्बन्ध होता है इन दोनों के मिलने से ही मानव की संरचना होती है। आत्मा और शरीर का यह सम्बन्ध केवल एक नाशवान जीवन की अवधि तक ही सीमित रहता है। जब यह समाप्त हो जाता है तो दोनों अपने-अपने उद्गम स्थान को वापस चले जाते हैं, शरीर मिट्टी में मिल जाता है और आत्मा ईश्वर के आध्यात्मिक लोक में। आत्मा आध्यात्मिक लोक से निकली हुई, ईश्वर की छवि से सृजित होकर दिव्य गुणों और स्वर्गिक विशेषताओं को धारण करने की क्षमता लिए हुए शरीर से अलग होने के बाद शाश्वत रूप से प्रगति की ओर बढ़ती रहती है। (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है : (2) सृजनहार से पुनर्मिलन दुःख या डर का नहीं वरन् आनन्द के क्षण है :हम आत्मा को एक पक्षी के रूप में तथा मानव शरीर को एक पिजड़े के समान मान सकते है। इस संसार में रहते हुए

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन

लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का किया ऐलान जानिए किन मांगों को लेकर चल रहा है प्रदर्शन लखनऊ 2 जनवरी 2024 लखनऊ में स्मारक समिति कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन स्मारक कर्मचारियों ने किया कार्य बहिष्कार और कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव का भी है किया ऐलान इनकी मांगे इस प्रकार है पुनरीक्षित वेतनमान-5200 से 20200 ग्रेड पे- 1800 2- स्थायीकरण व पदोन्नति (ए.सी.पी. का लाभ), सा वेतन चिकित्सा अवकाश, मृत आश्रित परिवार को सेवा का लाभ।, सी.पी. एफ, खाता खोलना।,  दीपावली बोनस ।

भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन

भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन लखनऊ, जुलाई 2023, अयोध्या के श्री धर्महरि चित्रगुप्त मंदिर में भगवान चित्रगुप्त व्रत कथा पुस्तक का भव्य विमोचन  किया गया। बलदाऊजी द्वारा संकलित तथा सावी पब्लिकेशन लखनऊ द्वारा प्रकाशित इस पुस्तक का विमोचन संत शिरोमणी श्री रमेश भाई शुक्ल द्वारा किया गया जिसमे आदरणीय वेद के शोधक श्री जगदानंद झा  जी भी उपस्थित रहै उन्होने चित्रगुप्त भगवान् पर व्यापक चर्चा की।  इस  अवसर पर कई संस्था प्रमुखो ने श्री बलदाऊ जी श्रीवास्तव को शाल पहना कर सम्मानित किया जिसमे जेo बीo चित्रगुप्त मंदिर ट्रस्ट,  के अध्यक्ष श्री दीपक कुमार श्रीवास्तव, महामंत्री अमित श्रीवास्तव कोषाध्यक्ष अनूप श्रीवास्तव ,कयस्थ संध अन्तर्राष्ट्रीय के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिनेश खरे, अ.भा.का.म के प्रदेश अध्यक्ष श्री उमेश कुमार जी एवं चित्रांश महासभा के कार्वाहक अध्यक्ष श्री संजीव वर्मा जी के अतिरिक्त अयोध्या नगर के कई सभासद भी सम्मान मे उपस्थित रहे।  कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के अध्यक्ष दीपक श्रीवास्तव जी ने की एवं समापन महिला अध्यक्ष श्री मती प्रमिला श्रीवास्तव द्वारा किया गया। कार्यक्रम